How-To-Guide hindi Search

अगर आपका बच्चा पोर्न वेबसाइट देखने लगे तो क्या करना चाहिए






आपका बच्चा पॉर्न देखता है यह पता चलने पर आपको भारी झटका लग सकता है। लेकिन आपको यह समझना होगा कि आपका बच्चा का सेक्स के प्रति उत्सुक होना, पॉर्न देखना या पढ़ना एक साधारण बात है। हालांकि, आपका बच्चा जिसे एक हानिरहित काम समझता है, उसे नियंत्रित नहीं किए जाने के बाद यह एक ख़तरनाक लत और चिंता की बात बन सकती है। इसके अलावा पोर्नोग्राफी के ज़रिए आपका बच्चा विश्वभर में सेक्स से जुड़े विभिन्न ट्रेंड्स या सेक्स व्यवहारों से भी परिचित हो सकता है जो अप्राकृतिक, विचित्र और अनहेल्दी होते हैं। निश्चित ही यह आपके लिए चिंता की एक बड़ी बात है। पॉर्न साइट्स शायद ही सेक्स कर रहे कपल्स के बीच प्रेम और आत्मीयता दर्शाती हैं, और माता-पिता के तौर पर आपके बच्चे के पॉर्न देखने पर आपका गुस्सा जायज़ है। लेकिन आपको ऐसी स्थिति में क्या करना चाहिए? चाइल्ड साइकोलॉजिस्ट, डॉ. शुची दलवी बता रही हैं इस स्थिति को सम्भालने के तरीके। साथ ही उन्होंने बताया कि किस तरह आप अपने बच्चे को इस समस्या के बारे में समझने और सेक्स के प्रति एक हेल्दी नज़रिया विकसित करने में मदद कर सकते हैं। लक्षण जो बताते हैं कि आपके बच्चे के साथ यौन शोषण किया जा रहा है!

• पूरी स्थिति को सामान्य करें- हो सकता है, कि आपका बच्चा यह पहले से समझ गया हो कि पॉर्न अकेले में और सावधानीपूर्वक देखना चाहिए, और इसके बारे में उसे अधिकांश जानकारी और विचार अपने दोस्तों से ही मिल रहे हैं। इसलिए जब अपने बच्चे से इस बारे में बात करें, तो आपको एक तटस्थ या न्यूट्रल रुख अपनाना होगा। आपकी कोशिश अपने बच्चे को शर्मिंदा करने की नहीं होनी चाहिए। निश्चित ही आप अपने बच्चे को यह समझाना चाहेंगे कि सेक्स की इच्छा और उत्सुकता एक सामान्य बात है, लेकिन इसका ज़रिया पॉर्न फ़िल्में नहीं हैं। अगर आप अपने बच्चे को शर्मिंदा करेंगे, तो हो सकता है कि वह आपसे बात करना ही बंद कर दे। जब बच्चा थप्पड़ मारना या दांत काटना सीख जाए तो क्या करेंगे?

• सकारात्मक तरीके से बात करें- जैसा हमने पहले ही कहा, पॉर्न में प्रेम या एक हेल्दी रिश्ते के बारे में नहीं बताया जाता, और आपको यही चीज़ उसे समझानी है। उसे बताएं कि पॉर्न ग़लत क्यों है, क्यों वहां नहीं दर्शाया जाता कि दो लोगों के बीच इंटीमेसी या आत्मीयता को बढ़ाने के लिए सेक्स की मदद ली जाती है, क्यों वहां अविश्वनीय स्थितियां दर्शायी जाती हैं। अगर आप अपने बच्चे की मदद करेंगे तो वह हेल्दी सेक्स के बारे में एक बेहतर दृष्टिकोण बना पाएगा। इस तरह वह पॉर्न के अश्लील रूप के बुरे प्रभावों से बच सकेगा और अधिक सावधानीभरा व्यवहार करेगा।

• पॉर्न में दिखाई जानेवाली भ्रामक बातों के प्रति अपने बच्चों को सावधान करें- पॉर्न फ़िल्मों में सेक्स को हिंसक और स्पष्ट रुप दिखाया जाता है, जो कि असल ज़िंदगी में होनेवाले सेक्स से पूरी तरह अलग है। अपने बच्चे को समझाएं कि वह पॉर्न वेबसाइट पर सेक्स का जो रुप देखता है, असली सेक्स वैसा नहीं है। पॉर्न में कुछ लोग एक्टिंग करते हैं, जिसके लिए उन्हें पैसे मिलते हैं। वह केवल सेक्स की प्रक्रिया दर्शाते हैं। जबकि असलियत में सेक्स बहुत अलग है।

• सवालों के जवाब दें और सीमाएं तय करें- अपने बच्चे से पूछें कि उसने स्क्रीन पर जो कुछ देखा है, क्या उसके बारे में उसके पास कोई सवाल है। उन्हें समझाएं कि सामान्य स्थिति कैसी होती है, और पॉर्न में दिखायी जानेवाली चीज़ें हमेशा नैचुरल या सुरक्षित नहीं होतीं। साथ ही, उनके लिए सीमाएं तय करें और उन्हें बताएं कि ज़रूरत पड़ने पर वह पॉर्न देखे बिना सेक्स के बारे में जानकारी कहां से इकट्ठा कर सकते हैं।

ऐसी स्थितियों को सम्भालना काफी मुश्किल होता है, और हो सकता है कि यह आपके बच्चे को अच्छा भी न लगे या वो इसे सकारात्मक तरीके से न ले सके। लेकिन जब आप अपने बच्चे के भले के लिए कोशिश करते रहेंगे, तो जब भी उन्हें इसका अहसास होगा, वे इसके लिए आपके प्रति शुक्रगुज़ार ही होंगे।